सन 1956 में भारत सरकार के द्वारा बनाया गया एक कारपोरेशन (निगम) जिसका मालिक कोई नहीं बस पॉलिसीधारक ही है LIC में से सरकार प्रतेक वर्ष 5% लाभ में से लेती है और बाकि सारा लाभ निगम में फिर निवेश किए जाते है

पॉलिसीधारकों का पॉलिसी व बोनस की सभी रकम भारत संविधान के अंदर सेक्शन 34, 1956 के तहत सुरक्षित है सरल भाषा में कहें तो LIC  का सभी प्रकार के पैसे की गारंटी भारत सरकार की है

LIC के बारें में पूर्ण जानकारी जानने के लिए विडिओ देखें जरुरी है आपके ज्ञान के लिए ताकी आप भी किसी का मार्गदर्शन कर सकें

क्या LIC प्राइवेट हो गई है, या बिक गई है, पब्लिक का पैसा क्या असुरक्षित हो गया है ?

जी नहीं, बिलकुल नहीं LIC इतनी बड़ी कीमत की कंपनी है जिसको खरीद पाना इतना आसान नहीं है और अधिक जानकारी आपको विडिओ देख के मिल जाएगी किसी भी राजनितिक नजरिये के बिना निष्पक्ष हो कर ध्यान से विडिओ देखें

×
×

Cart